Vajyanti Mala

वैजयंती माला विजय और जीत का प्रतीक है।

वैजयंती माला विजय और जीत का प्रतीक है। मान्‍यता है कि स्‍वयं श्रीकृष्‍ण ने राधाजी के लिए और भगवान राम ने सीता जी के लिए वैजयंती के मनकों को माला में पिरोया था।

वैजयंती माला विजय और जीत का प्रतीक है। मान्‍यता है कि स्‍वयं श्रीकृष्‍ण ने राधाजी के लिए और भगवान राम ने सीता जी के लिए वैजयंती के मनकों को माला में पिरोया था।

वैजयंती माला के लाभ

इसे धारण करने वाले व्‍यक्‍ति को जीवन के हर क्षेत्र में जीत हासिल होती है। प्रेम में सफलता पाने के लिए भी इस माला का प्रयोग किया जा सकता है।
वैजयंती माला से कुंडली के ग्रह दोष दूर होते हैं। अगर आपकी कुंडली में कोई ग्रह दोष और उसके कारण आपके जीवन में परेशानियां आ रही हैं तो आपको वैजयंती माला धारण करनी चाहिए। इसके मोती आपकी संकट से रक्षा करेंगें।
वैजयंती माला को पहनने के बाद व्‍यक्‍ति को किसी भी तरह की कोई हानि छू भी नहीं सकती है।

कैसे करें प्रयोग
वैजयंती माला को स्‍थापित करने से पहले इस माला को हाथ में लेकर ध्‍यान करें। उन चीज़ों के बारे में सोचें जो आप इस माला में संचारित या इससे प्राप्‍त करना चाहते हैं।

हमसे क्‍यों लें
वैजयंती माला को हमारे अनुभवी पंडितजी द्वारा अभिमंत्रित कर आपके पास भेजा जाएगा।

वैजयंती माला को अभिमंत्रित करने के बाद ये आपको दोगुना लाभ पहुंचाती है।

डॉ मानवी भारद्वाज
ज्योतिष आचार्य , वास्तु विशेषज्ञ
94635 – 40584

About the author: Rajesh Sharma

Leave a Reply

Your email address will not be published.Email address is required.